कटरा गुलाब सिंह में बंदी, योगी राज में बढ़ रहे अपराधिक घटनाओं से नाराज व्यापारियों का विरोध प्रदर्शन। नाकाम पुलिसकर्मियों को हटाने की मांग - Pratapgarh Samachar

Breaking

मंगलवार, 15 अगस्त 2017

कटरा गुलाब सिंह में बंदी, योगी राज में बढ़ रहे अपराधिक घटनाओं से नाराज व्यापारियों का विरोध प्रदर्शन। नाकाम पुलिसकर्मियों को हटाने की मांग


कटरा गुलाब सिंह, जेठवारा। लगातार इलाके में चोरी, छिनैती और लूट की घटनाओं से रुष्ट कटरा गुलाब सिंह बाजार के व्यापारियों ने साप्ताहिक बाजार के सोमवार के दिन दुकानें बंद कर विरोध जताया। इससे ग्राहकों को परेशानी हुई, बिना सामान लिए खाली हाथ लौटना पड़ा। विरोध प्रदर्शन कर रहे व्यापारियों/व्यवसायियों ने कटरा गुलाब सिंह पुलिस चौकी पर नियुक्त पुलिसकर्मियों को हटाने की मांग की।
कटरा गुलाब सिंह में कुछ इस तरह मुस्तैदी से तैनात होते है योगी के पुलिस  

हर सोमवार को जेठवारा थाना क्षेत्र कटरा गुलाब सिंह बाजार साप्ताहिक बाजार लगती है। इलाके तथा निकटवर्ती और दूरदराज गाँव के लोग घरेलू और जीवनोपयोगी सामान खरीदने हेतु आते हैं। इलाके में आजकल चोरी, छिनैती और लूट आम हो गई है और इन घटनाओं का खुलासा न होने से नाराज व्यापारियों ने दुकानें बंद कर व्यापार मंडल के प्रेसिडेंट अमर बहादुर सिंह की नेतृत्व में रामलीला मैदान में मीटिंग की और रणनीति बनाई। व्यापारियों ने स्पस्ट रूप से कहा कि प्रशासन पुलिस चौकी के पुलिस कर्मियों को हटाये। अगर इस तरह चलता रहा और अपराध दिन ब दिन बढ़ता रहा और घटनाओं का खुलासा न हुआ तो वे लोग सड़क जाम करेंगे और प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन जोरशोर से करेंगे। इस मौके पर लालजी सिंह, अकबर अली, रणजीत, अशर्फीलाल, देवी प्रसाद मिश्रा, सुशील कुमार, राकेश सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

बढ़ी हैं क्षेत्र में चोरी-छिनैती-लूट जैसी अपराधिक घटनाये  

ज्ञात हो कि कटरा गुलाब सिंह क्षेत्र में विगत कुछ महीने से अपराधिक घटनाये चरम पर है। प्रशासन इन्हें सुलझाने और इन घटनाओ का खुलासा करने में नाकाम रही है। कुछ समय पहले एक गल्ले व्यापारी को गोली मार कर लाखो रुपये लूट लिए गए थे। हाल में ही इलाके के पेट्रोल पंप मालिक के भाई को तमंचे के नोक पर लाखो रुपये लूट लिए और उस पर फायरिंग भी की। और इस रविवार को एक फुलकी (पानीपूरी) बेचने वाले युवक को तीन बदमाशों ने चाकू दिखाकर लूटपाट कर उसकी पिटाई की। प्रशासन अपराधियों पर लगाम लगाने में विफल रहा है।