जिले के रानीगंज और फतनपुर क्षेत्र में कटी दो महिलाओं की चोटी - Pratapgarh Samachar

Breaking

मंगलवार, 8 अगस्त 2017

जिले के रानीगंज और फतनपुर क्षेत्र में कटी दो महिलाओं की चोटी


प्रतापगढ़: देश में औरतों और महिलाओ की चोटी कटने की घटनायें रुकने का नाम ही नहीं ले रही है। बीते 2 दिनों में प्रतापगढ़ जनपद में बच्ची, युवती, महिला सहित कुल 13 लोगो की चोटी कटी थी। वहीँ, इतवार की रात को रानीगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत 2 औरतों की चोटी कट गई। आसीपुर गाँव की रहने वाली 52 बरस की कंचन देवी, पत्नी राम प्रसाद प्रजापति घर के नजदीक छान में सो रही थी। कंचन के मुताबित रात को 11 बजे उनको सपना आया जिसमें उनकी आँख पर कोई हल्दी का लेप लगा रहा है। इतने में वो मूर्छित होकर गिर गई। परिवार वालों ने देखा तो पाया कि उनकी चोटी कटी है। स्थिति बिगड़ने पर घर वाले कंचन को भोर इलाज के लिए रानीगंज के स्थानीय अस्पताल ले गए, जहाँ फर्स्ट ऐड के बाद उसे घर जाने दिया गया। 

रविवार की ही दूसरी घटना फतनपुर थाना के अंतर्गत आने वाले कनेवरा गाँव की है। जहाँ मुन्नालाल पटेल की 55  वर्षीय धर्मपत्नी शिवकली रविवार को रात करीब साढ़े 10 बजे मकान के बाहर डोरी पर टंगा कपड़ा लाने गई थी। इस दरम्यान उसे आभास हुआ कि पीछे उसके कोई खड़ा है। इतने में ही उसकी चोटी कट गई। शिवकली कटी चोटी देख कर तुरंत बेहोश हो गई। उसकी स्थिति में नाजुक होने पर परिजन उपचार खातिर CHC Gaura ले गए। जहाँ प्राथमिक उपचार के थोड़े देर बाद उसे रवाना कर दिया गया। चोटी कटने की घटनाएं सुन सुन आए दिन महिलाएं डरी हुई हैं। इस प्रकरण को लेकर प्रतापगढ़ जिले में कुल 15 घटनाये चोटी काटने की हुई है। हालाकि अभी तक एक ही घटना को प्रशासन ने फर्जी पाया है, जिसमे कुंडा की एक युवती ने अपने बाल खुद कांटे और चोटी कटने की अफवाह फैलाई, पुलिस ने सकती से पूछा तो पूरा रहस्य सामने आया, जिसमे उसे किसी रिश्तेदार ने बताया था कि चोटी कटने से पीड़ित को सरकार 1 लाख रूपया देगी। जिले के पुलिस अधीक्षक शगुन गौतम ने अब तक इन सभी मामलों को फर्जी और अफवाह बताया हैं। और कहा है कि इस तरह के अफवाह फ़ैलाने वाले लोगो पर सख्त कार्रवाई की जायगी। हालाकी इन सभी घटनाओ के पीछे क्या माजरा है पूरी तरह से स्पष्ट नही हो पाया हैं।