शिक्षामित्र मुख्यमंत्री से नीचे बात करने को नही है राजी - Pratapgarh Samachar

Breaking

गुरुवार, 17 अगस्त 2017

शिक्षामित्र मुख्यमंत्री से नीचे बात करने को नही है राजी



प्रतापगढ़। यूपी सरकार शिक्षामित्रों को न निगल पा रही है न उगल पा रही है। शिक्षामित्र मुख्यमंत्री के अलावा किसी से भी बात करने को तैयार नही है बुधवार को अपर सचिव उत्तर प्रदेश शासन से शिक्षा मित्र  संगठन के पदाधिकारी से हुई  वार्ता विफल होने के बाद गुरूवार को सुबह से ही कचेहरी परिसर में शिक्षामित्रो का हुजूम जुटने लगा। 10 बजते-बजते ही मानो कचेहरी प्रांगण में अपार शिक्षामित्रों की  भीड़ उमड़ पड़ी । उम्मीद से अधिक हुई भीड़ देख प्रशासन की हालत खराब हो गई । आदर्श शिक्षामित्र वेलफेयर एसोसिएशन की अध्यक्षा रीना सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि हमने जो त्याग व तपस्या की है और हम ने पूरी महेनत लग्न की है  उसे बर्वाद नहीं होने देंगे। हमारे शिक्षामित्र एक शिक्षक की भांति कार्य किये है जहाँ भी जिस मिशन में हमारे शिक्षामित्रों का खड़ा किया गया वे पूरी निष्ठा व लगन के साथ खरे उतरे हैं।उन्होंने कहा कि हम सरकार की मनमानी के आगे नहीं झुकेंगे।उन्होंने कहा कि अपर सचिव से अब हम सब कोई भी वार्ता नहीं करेंगे और न ही उनके आगे झुकेंगे।रीना सिंह ने भरी भीड़ को संबोधित करते हुए कहा की मुख्यमंत्री से ही अब हमारा संगठन वार्ता करेगा और समान कार्य व समान वेतन के सिवाय कुछ भी मंजूर नहीं होगा।अपर सचिव ने देख लिया कि प्रदेश का शिक्षामित्रों का सारा संगठन एक है।इस स्थिति को देखते हुए अपर सचिव को अब ऐहसास हो चुका है कि संगठन किसी भी दशा में नहीं झुकेगा और अपना हक़ लेकर ही रहेगा। उन्होंने कहा कि संगठन को अपने मान-सम्मान का पूरा ख्याल है इससे कोई भी समझौता नहीं करेंगे।
वहीँ आज फिर शासन की ओर से वार्ता के लिए संगठन के पदाधिकारियों को बुलाए जाने के प्रयास  भी किए जा रहे गये। वहीँ शिक्षामित्र संगठन  मुख्यमंत्री से नीचे किसी से भी वार्ता करने के लिए राजी नहीं है।