मोहर्रम व दुर्गा पूजा की झण्डी उखाड़ी, प्रतापगढ़ में बिगड़ा सांप्रदायिक माहौल - Pratapgarh Samachar

Breaking

गुरुवार, 28 सितंबर 2017

मोहर्रम व दुर्गा पूजा की झण्डी उखाड़ी, प्रतापगढ़ में बिगड़ा सांप्रदायिक माहौल


बाघराय/फतनपुर| त्योहारों के मौसम में उपद्रवी तत्व सौहार्द्र बिगाड़ने की कोशिश में लगे हैं। बिहार बाजार में मोहर्रम के झंडे उखाड़कर नहर में फेंके गए जबकि रामापुर बाजार में पुलिस द्वारा दुर्गा पूजा पण्डाल का झंडा उखाड़ा गया।
बाघराय थाना क्षेत्र के बिहार बाजार में मंगलवार को किसी शरारती तत्व ने मुहर्रम के लिए लगाए गए झंडों में से 12 झंडे उखाड़कर पास की नहर में फेंक दिए। सुबह लोगों को जानकारी होने पर तनाव फैलने लगा, पुलिस को भी सूचना मिली। एसओ एन. के. नागर, प्रधान दातादीन, ओमप्रकाश यादव, असद जाफ़री, इसराइल, जिफान, सफीक, अकरम, नसीम आदि ने आपस मे सलाह करके सद्भाव और शांति बनाए रखने के लिए झंडे अपनी जगह पर लगवा दिए।  पुलिस शरारती तत्वों की तलाश कर रही है फिलहाल क्षेत्र में शांति व सद्भाव का माहौल है।
झंडा उखाड़े जाने के बाद इकठ्ठा भीड़ 

वहीं दूसरी तरफ रानीगंज क्षेत्र में फतनपुर थाने के रामापुर बाजार में दुर्गापूजा पण्डाल का झण्डा उखाड़ने का काम पुलिस के सिपाहियों ने ही किया है। बताया जाता है कि थाने से दो सिपाही किसी मामले की जांच के लिए बाजार आये थे। उन लोगों का पण्डाल के पास किसी व्यापारी से कुछ विवाद हो गया। बात ज्यादा बढ़ी और शोर सुनकर आस पास के काफी व्यापारी इकट्ठा हो गए। लोगों ने बताया कि सिपाहियों ने खुन्नस में जाते समय पण्डाल में लगा झंडा उखाड़ के फेंक दिया। इसके बाद दुर्गा पूजा समिति के लोग और बाजार के व्यापारी आक्रोशित हो गए व बाजार बंद करके धरना देने लगे। सूचना पर थानाध्यक्ष संतोष दुबे मौके पर पहुँचे और मामले की जाँच करके दोषी सिपाहियों को दण्डित करने का आश्वासन दिया। फिलहाल यहाँ भी सब कुछ शांत है।
आक्रोशित भीड़ को शांत कराते थानाध्यक्ष 

मामले पर पुलिस अधीक्षक शगुन गौतम ने बताया कि "दोनों जगह माहौल सौहार्दपूर्ण है, शरारती तत्वों की खोज की जा रही है और सिपाहियों से भी पूछताछ की जा रही है। किसी भी दोषी को बख्शा नही जाएगा, जिले में त्योहारों को शांतिपूर्ण ढंग से मनाया जाए इसका पूरा प्रयास है।"