अपराधियों का आतंक चरम पर, पुलिस बेबस, बेख़ौफ़ हो चुके हैं बदमाश - Pratapgarh Samachar

Breaking

सोमवार, 23 अक्तूबर 2017

अपराधियों का आतंक चरम पर, पुलिस बेबस, बेख़ौफ़ हो चुके हैं बदमाश

सीने में लगी गोली,2 इंच का बड़ा गड्ढा कर गयी, मौके पर ही हो गई थी मौत

प्रतापगढ़ आजकल अपराध रुकने का नाम ले रहा हैं ऐसा कोई दिन हैं कोई अपराधिक धटना हो आज  लालगंज कोतवाली के पूरे हरिकिशुन गांव में 18 साल का छात्र हरिदेव यादव की ऊपर किया गया हमला पूरी तरह से पुलिस तंत्र की विफलता की ओर इशारा करता है। उसका कुसूर क्या था बस वह पड़ोसी और पूर्व प्रधान शिव बहादुर गुप्ता के घर के बाहर बैठा था और अपराधी सुनील  गुप्ता के जैसे दिखता था। गाँव वालों की मानें तो हमलावर हरिदेव पर नहीं बल्कि शिव बहादुर के बेटे सुनील गुप्ता पर हमला करने आए थे।

लोगों ने बताया कि कुछ महीने पहले गांव के पूर्व प्रधान बृजेश द्विवेदी और उनके भाई पर भी जानलेवा हमला किया था। गोली चलाने वालों में शिव बहादुर गुप्ता का पुत्र सुनील गुप्ता भी शामिल था। उसे जेल हुई थी वह इन दिनों जमानत पर बाहर है। लोगों ने आशंका जताई है कि हरिदेव सुनील की तरह ही दिखता है। हमलावर सुनील को मारने आए थे लेकिन गलती से हरिदेव पर हमला करके भाग गए।
 एक 10 वीं में पढ़ने वाला छात्र अपराधियों की लड़ाई के चक्कर में मारा गया। प्रतापगढ़ में अपराधियों का बोलबाला है। यहां के हर गांव में 1 से 2 शूटर मिल जाएंगे। पुलिस सब जानती है लेकिन बड़ी घटना होने का इंतजार करती रहती है। जब तक किसी की जान नहीं जाती तब तक पुलिस जागती ही नहीं है।