मेरठ में अमेठीवासी की मदद से प्रतापगढ़ के वृद्ध 3 महीने बाद पहुंचे अपने घर - Pratapgarh Samachar

Breaking

मंगलवार, 26 दिसंबर 2017

मेरठ में अमेठीवासी की मदद से प्रतापगढ़ के वृद्ध 3 महीने बाद पहुंचे अपने घर

 
करीब तीन माह पूर्व दिल्ली से लापता हुआ प्रतापगढ़ का एक वृद्ध रविवार को मेरठ के खरखौदा पहुंच गया। कोई आस पास न होने के कारण लोगों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। इसकी जानकारी पाकर परिजन सोमवार को उसे अपने साथ ले गए। यह वृद्ध मूलरूप से प्रतापगढ़ जिले के थाना पट्टी क्षेत्र के गांव बेलारामपुर से थे। इनका नाम कालूराम चौरसिया (70) पुत्र सीताराम है । वर्तमान में यह डिप्रेशन का मरीज हैं। लगभग तीस वर्षों से परिवार के साथ करोलबाग दिल्ली में रहते हैं। इनका अपना ट्रांसपोर्ट का कारोबार है।
कालूराम लगभग 3 महीने पहले घर से अचानक लापता हो गये। बहुत ढूढ़ने पर नहीं मिले तो थकहार कर परिवार वालों ने संबंधित थाने में इसकी जानकारी दी लेकिन सुराग नहीं मिला। रविवार को रात में कालूराम घूमते घूमते मेरठ के खरखौदा कस्बा जा पहुंचे। वह खरखौदा जनता इंटर कालेज के लिपिक जो ख़ुद अमेठी जिले के निवासी हैं। इनका नाम राजकुमार है और वृद्ध इनके इसी कस्बे स्थित घर पहुंचे और कुछ खाने पीने को मांगा। राजकुमार ने जब वृद्ध से जानकारी ली तो वह प्रतापगढ़ जिले के निकले पड़ोसी जिला होने के कारण राजकुमार ने इसे गम्भीरता से लिया और वृद्ध के परिवार वालों को पूरी सूचना दी। जानकरी मिलने पर दिल्ली से ही परिवार के लोग सोमवार को मेरठ के खरखौदा पहुंचे वृद्ध को अपने साथ ले गए।