मामूली सी बात पर साला बना जान का दुश्मन, अपने ही जीजा को मारी गोली - Pratapgarh Samachar

Breaking

रविवार, 7 जनवरी 2018

मामूली सी बात पर साला बना जान का दुश्मन, अपने ही जीजा को मारी गोली


आसपुर देवसरा , प्रतापगढ़| घर के बाहर दरवाजे पर खड़ी एक संदिग्ध बाइक को लेकर हुए मामूली विवाद में भाई ने अपने ही बहन के पति पर फायरिंग कर दी। गोली लगने से युवक का जीजा गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे फ़ौरन जिला अस्पताल ले जाया गया जहाँ से चिकित्सकों ने उसे इलाहाबाद के लिए  रेफर कर दिया। पुलिस मामले की तफ्तीश कर रही है।

जनपद के आसपुर देवसरा अंतर्गत गाँव दफरा के रहने वाले राम नरायन दुबे के 42 वर्षीय पुत्र देवी प्रसाद की ससुराल चिलांवा में है। देवी प्रसाद के भाई बच्चा दुबे ने बताया कि शनिवार को रात लगभग आठ बजे बिना नम्बर की एक मोटरसाइकिल उसके दरवाजे के सामने खड़ी कर गया। नेमप्लेट में बगैर नंबर की मोटरसाइकिल को संदिग्ध मानकर देवी प्रसाद के घरवाले चिंतित हो गया। रात को लगभग ग्यारह बजे देवी प्रसाद का साला अवधेश दूसरी मोटरसाइकिल से अपने एक दोस्त के साथ आया तो देवी प्रसाद ने उससे बगैर नम्बर की खड़ी मोटरसाइकिल के बारे में पूछा। 



इसी पूछताछ के दौरान जीजा-साले में झगड़ा ठन गया। तब तक अवधेश के दो और दोस्त एक अन्य मोटरसाइकिल से आ गए। आरोप के मुताबित अवधेश ने अपने दोस्त के साथ लगभग 6 राउंड फायरिंग की। इस बीच देवी प्रसाद के परिवार वालो से भी छीना झपटी हुयी और अवधेश व उसके साथी भाग खड़े हुए। मगर अवधेश के एक दोस्त की जैकेट देवी प्रसाद के परिजनों के हाथ में आ गई। इस दौरान एक पैशन प्रो मोटरसाइकिल भी छूट गई। फायरिंग में बहनोई देवी प्रसाद के दाहिने पैर में गोली लग गई। आननफानन में पीड़ित को एक स्थानीय अस्पताल में ले जाया गया जिसके बाद वहा से उसे जिला अस्पताल ले गए, मगर फिर वहां डॉक्टरों ने इलाहाबाद के लिए रेफर कर दिया। जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची आसपुर देवसरा पुलिस ने आरोपितों की मोटरसाइकिल व जैकेट को बरामद कर मामले की तफ्तीश कर रही है। वहीं देवी प्रसाद के घर वालो का बयान है कि अवधेश एक हिस्ट्री शीटर है।