राष्ट्रीय एकता महोत्सव का रंगारंग सांस्कृतिक समापन, बाबा श्री घुश्मेश्वरनाथ जी दरबार में सबने लगाई हाजिरी - Pratapgarh Samachar

Breaking

शुक्रवार, 16 फ़रवरी 2018

राष्ट्रीय एकता महोत्सव का रंगारंग सांस्कृतिक समापन, बाबा श्री घुश्मेश्वरनाथ जी दरबार में सबने लगाई हाजिरी

घुइसरनाथ धाम : 23वें एकता महोत्सव का समापन कल पूर्णतः हो गया। वैसे तो महोत्सव 13, 14  और 15 फरवरी तक रखा गया था। महोत्सव के 15 फरवरी को आये मुख्य अतिथि जिलाधिकारी शंभु कुमार ने अपने विचार रखते हुए कहा कि सबको साथ लेकर चलते हुए जिले के विकास को बेहतर स्वरूप दिया जा सकता है।
        सई के तट पर बाबा घुश्मेश्वरनाथ ज्योतिर्लिंग मंदिर परिसर में आयोजित महोत्सव में कलाकारों ने अपनी प्रस्तुति दी जिससे वहां उपस्थित दर्शक भावविभोर हो गए। भक्ति गीतों की प्रस्तुति कर साथ साथ अवधी, भोजपुरी व हिंदी में भी सुर ताल बना बेहतरीन प्रस्तुतियां दी गयी। इसमें जिम्मेदारी से अपने कार्य का निर्वहन करने वाले प्रधानों, समाजसेवीयों, प्रबुद्धजनों एवं पत्रकारों को सम्मानित कर 23वें एकता महोत्सव ने हर एक प्रतापगढ़ वासी का दिन और रात दोनों यादगार बना दिया।
   
मुंबई से आये गायक और संगीतकार रवि त्रिपाठी ने अपने एलबम "मैं भारत बोल रहा हूं" की बेहतरीन प्रस्तुति दी। इस प्रस्तुति ने एकता महोत्सव में बैठे हर एक शख्स की देश के प्रति भावनाओं को और बलवती कर दिया, जबकि महोत्सव में अपनी प्रस्तुति देने वाली मुंबई की सोनाली चक्रवर्ती की टीम के शिव तांडव नृत्य को देख लोग भावविभोर हो हर हर महादेव के नारे लगाने लगे और तो और भक्ति गीतों पर भी जयकारे लगे। लोक गायक दीपक त्रिपाठी ने भोजपुरी में प्रस्तुति दी। यदि नृत्य के परिदृश्य में देखें तो दिल्ली की नृत्यांगना चांदनी व जेल फायर डांस ग्रुप की नृत्यांगनाओं ने बेहतरीन बॉलीवुड गीतों पर नृत्य कर अपनी मधुर प्रस्तुति दी। बिरहा गायक जगन्नाथ यादव, रज्जन पांडेय की पूरी टीम ने भी मनमोहक प्रस्तुतियां दीं। 23वें एकता महोत्सव में दर्शकों की संख्या काफी ज्यादा थी लोग कार्यक्रम के समापन तक महोत्सव में वन रहे। मंच के सामने बनी दर्शक दीर्घा पूर्णतः भरी हुई थी। आम जनता के साथ साथ विशिष्ट एवं अतिविशिष्ट दीर्घा में बैठे गणमान्य जन भी खड़े होकर महोत्सव का आनंद उठा रहे थे।
बाबा दरबार में राज्यसभा
 सांसद व विधायक
        एकता महोत्सव के मंच का संचालन लखनऊ के विजय बहादुर सिंह ने किया। मंच संचालन के तरीके से विजय बहादुर सिंह को काफी सराहना भी मिली। राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी,  अठेहा- रामपुरखास की विधायक आराधना मिश्रा उर्फ मोना, पूर्व सांसद राजकुमारी रत्ना सिंह ने उक्त सभी कलाकारों को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया।
पत्रिका
          पहली बार एकता महोत्सव और बाबा घुश्मेश्वरनाथ जी के ऊपर एक पत्रिका का जिसका नाम "महोत्सव दर्पण स्मारिका" का विमोचन भी किया गया। इस पत्रिका का कार्यकारी संपादक  प्रमोद तिवारी के मीडिया प्रभारी ज्ञान प्रकाश शुक्ल ने किया था।
       एकता महोत्सव के इस बेहतरीन कार्यक्रम और समापन समारोह में शिक्षक विधायक उमेश द्विवेदी,डॉ. विजयश्री सोना, लोक गायक चंचल शुक्ल, , अशोक सिंह, , रामबोध शुक्ल, दीपक मिश्र, रामकृपाल पासी, धर्मेद्र शुक्ल, कुंभापुर प्रधान आशुतोष मिश्र, नगर निगम लालगंज प्रतिनिधि संतोष द्विवेदी,अरविंद मिश्र, प्रदीप मिश्र, हरिश्चंद्र मौर्य, दृगपाल यादव, संजय बघेल, त्रिभुवन तिवारी, ओम नारायण पाण्डेय, पप्पू तिवारी, अजय शुक्ल गुड्डू, सुधीर तिवारी, अंशुमान तिवारी, संजय बघेल और घुइसरनाथ धाम प्रसार समिति की तरफ से नीतीश तिवारी, राहुल तिवारी, अमित सिंह, अरविंद आदि मौजूद रहे।