विकास कार्यक्रमों के सम्बन्ध में सचिव ने विभागीय अधिकारियों के कार्यो की समीक्षा एवं दिये आवश्यक निर्देश - Pratapgarh Samachar

Breaking

मंगलवार, 20 मार्च 2018

विकास कार्यक्रमों के सम्बन्ध में सचिव ने विभागीय अधिकारियों के कार्यो की समीक्षा एवं दिये आवश्यक निर्देश



जनपद की शासन की प्राथमिकताओ एवं विकास कार्यक्रमों के 61 बिन्दुओं के प्रभावी अनुश्रवण हेतु सचिव, संस्कृति विभाग उ0प्र0 शासन लखनऊ (जनपद के नोडल अधिकारी) जगत राज की अध्यक्षता में आज पं0 दीनदयाल उपाध्याय सभागार विकास भवन में बैठक की गयी। बैठक में उन्होने सर्वप्रथम कर-करेत्तर वसूली के प्रगति समीक्षा में जिसमें मनोरंजनकर विभाग और नगर निकाय के वसूली की प्रगति धीमी पाये जाने पर अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) सोमदत्त मौर्य से प्रगति में सुधार लाने के निर्देश दिये। उन्होने तहसीलों में मुकदमों के निस्तारण की प्रगति धीमी पाये जाने पर मुख्य राजस्व अधिकारी शिवपूजन को निर्देश दिये कि सम्बन्धित तहसीलदारों से मुकदमों के निस्तारण की प्रगति में तेजी लाने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि मा0 मुख्यमंत्री जी प्राथमिकता वाली एन्टी भू-माफिया के खिलाफ कार्यवाही में जो बड़े-बड़े चिन्हित भू-माफिया हो उनके खिलाफ प्राथमिकता के आधार पर कार्यवाही की जाये और गरीब वर्ग इस कार्यवाही से प्रभावित न हो। उन्होने जिला पंचायत राज अधिकारी से शौचालय निर्माण के प्रगति के सम्बन्ध में जानकारी ली तो उनके द्वारा बताया गया कि निर्धारित लक्ष्य 3 लाख 30 हजार के सापेक्ष 66 हजार शौचालयों का निर्माण कराया जा चुका है। शौचालय निर्माण की प्रगति धीमी होने पर जिला पंचायत राज अधिकारी को प्रगति में सुधार लाने के निर्देश दिये। अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद अवधेश यादव से अब तक ओ0डी0एफ0 घोषित वार्डो की संख्या की जानकारी ली तो उनके द्वारा बताया गया कि 25 वार्डो में से 12 वार्ड ओ0डी0एफ0 घोषित हो चुके है। जल निगम विभाग की समीक्षा में जल निगम ग्राम समूह की दो योजनायें जो अब तक बन्द है उसके प्रारम्भ के सम्बन्ध में ए0ई0 से जानकारी ली गयी तो उनके द्वारा सन्तोषजनक उत्तर न मिलने पर उन्हें फटकार लगायी और कार्य प्रणाली में सुधार लाने के निर्देश दिये।
बैठक में सचिव द्वारा बाल विकास एवं पुष्टाहार के सम्बन्ध में जिला कार्यक्रम अधिकारी सन्तोष कुमार श्रीवास्तव से जानकारी ली गयी तो उन्होंने बताया कि 117 आंगनबाड़ी केन्द्र बनने थे जिसमें से 86 का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है तथा 31 का निर्माण कार्य चल रहा है। जिला कार्यक्रम अधिकारी ने यह भी बताया कि 0 से 5 वर्ष तक के बच्चों का आधार कार्ड 70 प्रतिशत बन गया है और जनपद में जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा 100 ग्राम गोद लिये गये थे जिनमें से अब तक 12 ग्राम कुपोषण मुक्त हो गये है। इस कार्य के प्रगति पर सचिव महोदय ने जिला कार्यक्रम अधिकारी सन्तोष कुमार श्रीवास्तव की प्रशंसा की। इसके अलावा सचिव महोदय द्वारा लोक निर्माण विभाग, विद्युत विभाग, समाज कल्याण विभाग सहित अन्य विभागों की समीक्षा की गयी। बैठक में जिलाधिकारी शम्भु कुमार, पुलिस अधीक्षक सन्तोष कुमार, मुख्य विकास अधिकारी राजकमल यादव, अपर जिलाधिकारी सोमदत्त मौर्य, मुख्य राजस्व अधिकारी शिवपूजन सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।