भार से धराशायी हुआ पुल, पिलर पर लटका रहा ट्रक - Pratapgarh Samachar

Breaking

रविवार, 25 मार्च 2018

भार से धराशायी हुआ पुल, पिलर पर लटका रहा ट्रक

बेलखरनाथधाम ब्लॉक के सोनाही बाजार-गोलापुर मार्ग पर पड़ने नाले पर बना पुल पर 12 चक्का ट्रक भयकंर तरीके से लदे बालू के अधिक भार से टूट गया। मात्र 15 वर्ष पूर्व बने इस पुल को पुराने जमाने के हिसाब से बनाया गया था। लेकिन भ्रष्टाचार में डूबे सिस्टम ने इस पुल की उम्र इसके निर्माण के समय ही कम कर दी थी। दुर्घटना के पश्चात पुल के पुराने जमाने के हिसाब से बने ईंट के पिलर पर ट्रक लटक गया। इस घटना के होने के बाद यह नजारा देखने के लिए वहां भीड़ जमा हो गई, उसके बाद जिसको देखो वही मोबाइल से फ़ोटो खींचने में मशगूल हो गया।


      बेलखरनाथधाम ब्लॉक के सोनाही बाजार-गोलापुर मार्ग पे नाले पर बना यह पुल काफी पुराना है। शनिवार दोपहर 12 चक्का ट्रक इलाहाबाद से बालू लादकर गोलापुर की ओर जा रहा था। लगभग एक बजे ट्रक सोनाही-गोलापुर स्थित नाले पर बना पुराना पुल पार करने लगा। ट्रक पर लदे मानक से अधिक बालू का भार पुराने जमाने के इस पुल से नहीं उठाया गया और यह पल धराशायी हो गया।क्यों कि 12 चक्के का था जिस वजह से ट्रक लंबाई में बड़ा होने की वजह से ईंट से बने पिलर के सहारे लटक गया। अचानक हुई दुर्घटना से ट्रक चालक व खलासी घबराहट में भाग निकले। देर शाम तक ट्रक पुलिया पर लटकता रहा। इससे आवागमन बाधित रहा।
     15 वर्ष पूर्व बने इस पुल की मजबूती न के बराबर थी । पुलिया टूटने से कोई जनहानि तो नहीं हुई, लेकिन स्थानीय लोग उसकी मजबूती पर सवाल उठा रहे थे। ग्रामीणों ने बताया कि इस पुल के निर्माण के समय गुणवत्ता के सवाल पर ठेकेदार कहासुनी भी हुई थी। लेकिन हुआ वही जो ठेकेदार ने चाहा। अगर इस स्थान पर कोई गाड़ी या बड़ी बस हुई होती तो बड़ी दुर्घटना का रूप ले सकता था यह पुल । करीब दो साल से टूटने की कगार पर पहुंच चुके इस पुल के लिए प्रशासन मौन बना रहा। अगर अब भी क्षेत्र में जर्जर पुल या पुलिया के बारे में प्रशासन नहीं ध्यान देगा बड़ा हादसा फिर से सम्भव है। उड़ैयाडीह से दीवानगंज जाने वाले सोनाही बाजार-गोलापुर मार्ग के बीच बने इस पुल के टूटने से पैदल भी नहीं जाया जा सकता। इससे गोलापुर, अहियापुर, चौपई, सराय भवानी सहित दर्जनों गांवों का संपर्क टूट गया। इन गांव के वासियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।