प्रतापगढ़ के इस कॉलेज ने हिंदी दिवस का बनाया मजाक - Pratapgarh Samachar

Breaking

शुक्रवार, 14 सितंबर 2018

प्रतापगढ़ के इस कॉलेज ने हिंदी दिवस का बनाया मजाक


प्रतापगढ़| १४ सितम्बर यानी हिंदी दिवस। जिलेभर के स्कूल-कालेजों में हिंदी दिवस धूमधाम से मनाया गया। प्रतापगढ़ के कई विद्यालयों और महा-विद्यालयों में हिंदी दिवस के अवसर पर हिंदी भाषा व साहित्य पर आधारित विभिन्न आयोजनों के माध्यम से हिंदी दिवस बनाया गया। लेकिन जिले के ही एक प्रतिष्ठित कॉलेज का मामला सामने आया है, जहाँ पर हिंदी दिवस मानाने के नाम पर हिंदी का अपमान किया गया। बता दें कि प्रतापगढ़ सिटी स्थित प्रताप बहादुर पी० जी० कॉलेज में हिंदी दिवस बनाने के नाम पर बड़े बड़े शब्दों में अंग्रेजी के बैनर लगे मिले। यह तो अपने आप में ही अपमानजनक और हास्यास्पद लगता है, कि मनाया तो हिंदी दिवस जा रहा है, लेकिन उसी के बैनर अंग्रेजी में लगे है।

एक तरफ जहाँ देश के प्रधानमंत्री मोदी व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज विदेशी भूमि पर हिंदी में भाषण देकर अंतर्राष्ट्रीय पटल पर हिंदी का डंका बजा रहे है वही, अपने ही देश के हिस्से में हिंदी दिवस मनाने के नाम पर बैनरों पर अंग्रेजी का प्रयोग किया जा रहा है। पी० जी० कॉलेज की ये तस्वीरे व्हाट्सएप्प और अन्य सोशल मीडिया वेबसाइट पर धड़ल्ले से वायरल की जा रही है। कुछ लोग कॉलेज के इस हरकत पर हँस रहे है, तो वही कुछ लोग तस्वीर पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे है।

पाठको को बता दें कि हिन्दी दिवस हर वर्ष १४ सितम्बर को मनाया जाता है। साल १४ सितम्बर १९४९ को संविधान सभा ने एक मत से यह निर्णय लिया कि हिन्दी ही भारत की राजभाषा होगी। इसी महत्वपूर्ण निर्णय के महत्व को प्रतिपादित करने और हिंदी को सभी क्षेत्र में प्रसारित करने के उद्देश्य से राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, वर्धा के अनुरोध पर साल १९५३ से पूरे भारतवर्ष में १४ सितम्बर को हिन्दी-दिवस के रूप में मनाया जाता है।